यौगिक और मिश्रण में अंतर || Difference Between Mixture and Compound

यौगिक और मिश्रण में अंतर | Difference Between Mixture and Compound :- आज आपके लिए EexamPaper.com आपके लिए विज्ञान के अंतर्गत रसायन विज्ञान का एक महत्वपूर्ण टॉपिक यौगिक और मिश्रण में अंतर (Difference Between Mixture and Compound) लेकर आए है।

इस यौगिक और मिश्रण में अंतर को पढ़ने के लिए सबसे पहले वेबसाइट के सबसे नीचे जाकर Non-AMP Version पर क्लिक करें।

आज आपको हम इस पोस्ट के माध्यम से इन सवालों का जवाब देंगे। जैसे :- मिश्रण और यौगिक में अंतर बताएं, तत्व यौगिक और मिश्रण में अंतर, यौगिक और मिश्रण में अंतर लिखो, मिश्रण और यौगिक में अंतर स्पष्ट करें, मिश्रण तथा यौगिक में अंतर स्पष्ट कीजिए, मिश्रण एवं यौगिक में चार अंतर लिखिए, मिश्रण एवं यौगिक में अंतर बताइए।

मिश्रण और यौगिक में अंतर बताएं, तत्व यौगिक और मिश्रण में अंतर, यौगिक और मिश्रण में अंतर लिखो, मिश्रण और यौगिक में अंतर स्पष्ट करें, मिश्रण तथा यौगिक में अंतर स्पष्ट कीजिए, मिश्रण एवं यौगिक में चार अंतर लिखिए, यौगिक और मिश्रण में अंतर, Difference Between Mixture and Compound
यौगिक और मिश्रण में अंतर | Difference Between Mixture and Compound

यौगिक और मिश्रण में अंतर | Difference Between Mixture and Compound

आप सभी को मिश्रण और यौगिक में अंतर या  यौगिक तथा मिश्रण में अंतर जानने से पहले हमें यह जानना होगा कि यौगिक किसे कहते हैं? मिश्रण किसे कहते हैं?  पदार्थ किसे कहते हैं? तथा  तत्व किसे कहते हैं? इसके पश्चात ही आप सबको मिश्रण तथा यौगिक में अंतर अच्छे से समझ में आएगा।

पदार्थ किसे कहते हैं ?

द्रव के शुद्ध रूप को पदार्थ कहते हैं। पदार्थ में सामान्यतः एक निश्चित रासायनिक संगठन तथा विशिष्ट गुणों की उपस्थित होती है। पदार्थों को रासायनिक तत्व अथवा रसायनिक यौगिको के रूप में वर्गीकृत किया जाता है।

तत्व किसे कहते हैं ?

तत्व पदार्थ का सरलतम रूप है अर्थात उन्हें भौतिक अथवा रासायनिक प्रक्रियाओं से और अधिक सरल संघटको में विभाजित नहीं किया जा सकता हैं। तत्व एक ही प्रकार के परमाणुओं से मिलकर बना होता है। अर्थात किसी तत्व के प्रत्येक परमाणु का नाभिकीय आवेश समान होता है। जैसे -: ऑक्सीजन, हाइड्रोजन, लोहा, पारा, आदि।

तत्वों को सामान्यत: धातु (Metal),  अधातु (Non -Metal), उपधातु (Metalloid) में वर्गीकृत किया जाता है। अब तक 118 तत्व ज्ञात किए जा चुके हैं जिनमें से 94 तत्व प्राकृतिक रूप से पाए जाते हैं जबकि शेष 24 तत्व वैज्ञानिक द्वारा प्रयोगशाला में संश्लेषित किए गए हैं, इन सभी तत्वों को रूसी रसायन वैज्ञानिक दिमित्री मेंडलीफ द्वारा निर्मित आवर्त सारणी पर आधारित  आधुनिक आवर्त सारणी में परमाणु क्रमांक के अनुसार व्यवस्थित किया गया है।

यौगिक (Compound) किसे कहते हैं ?

यौगिक दो अथवा दो से अधिक तत्वों की एक निश्चित अनुपात में रासायनिक संयोजन (Chemical Combination) के परिणाम स्वरूप निर्मित होता है तथा एक इकाई के रूप में परिवर्तित हो जाता है यौगिक भी तत्वों के समान शुद्ध पदार्थ होते हैं परंतु तत्वों के विपरीत यौगिक को अधिक सरल संघटको (Simple Components) में विभाजित किया जा सकता है।

उदाहरण :-

  • जल (H2O) – हाइड्रोजन तथा ऑक्सीजन अणुओं के मध्य 2:1 के अनुपात में संयोजन।
  • नमक (NaCl) – सोडियम तथा क्लोरीन के अणुओं के मध्य 1:1 के अनुपात में संयोजन।

यौगिकों को दो भागों में बांटा जाता है।

  • कार्बनिक यौगिक (Organic Compound)
  • अकार्बनिक यौगिक (Inorganic Compound)

मिश्रण (Mixture) किसे कहते हैं ?

निश्चित अनुपात में दो अथवा दो से अधिक पदार्थों का ऐसा भौतिक संयोजन (Physical Combination) जिसमें कोई रसायनिक अभिक्रिया न हो तथा सम्मिलित पदार्थों की मूल विशेषताओं में परिवर्तन न हो, मिश्रण कहलाता है। मिश्रण में सम्मिलित अवयवों को विभिन्न भौतिक क्रियाओं,  जैसे –  निस्पंदन (Filtration),  आसवन (Distillation), उर्ध्वपातन (Sublimation) आदि के द्वारा पुनः पृथक किया जा सकता है।

मिश्रण के प्रकार (Types of Mixture)

मिश्रण में सम्मिलित पदार्थ प्रकृति के अनुसार मिश्रण के 2 प्रकार होते हैं।

  • समांगी मिश्रण (Homogeneous Mixture)
  • विषमांगी मिश्रण (Heterogeneous Mixture)

यौगिक और मिश्रण में अंतर | Difference Between Mixture and Compound

मिश्रण (Mixture)यौगिक (Compound)
मिश्रण से इसके संगठक पदार्थों को भौतिक विधियां जैसे – निस्पंदन वाष्पन उर्ध्वपातन आदि के द्वारा पृथक किया जा सकता है।किसी यौगिक से इसके अवयवों को भौतिक विधि द्वारा पृथक नहीं किया जा सकता है ।
मिश्रण में उसके संगठक पदार्थों के सभी गुण पाए जाते हैं ।यौगिक के गुण के संगठक तत्वों से भिन्न होते हैं।
मिश्रण के निर्माण में ऊर्जा (ऊष्मा, प्रकाश इत्यादि के रूप में) न शोषित होती है और न ही मुक्त होती है।यौगिक के निर्माण में प्रायः ऊर्जा (ऊष्मा, प्रकाश इत्यादि के रूप में) या तो शोषित होती है या मुक्त होती है।
मिश्रण का संघटन अनिश्चित होता है अर्थात इसमें सम्मिलित अवयव किसी भी अनुपात में हो सकते हैं।यौगिक का संघटन निश्चित होता है। यौगिक में सम्मिलित तत्व द्रव्यमान के एक निश्चित अनुपात में होते हैं।
मिश्रण का गलनांक, क्वथनांक एवं घनत्व आदि निश्चित नहीं होता है।यौगिक का गलनांक, क्वथनांक एवं घनत्व आदि निश्चित होता है।
विलियन (यदि समांगी मिश्रण है) को छोड़कर शेष सभी मिश्रण प्रायः विषमांग होते हैं।सभी यौगिक समांग रोते हैं।
मिश्रण में दो या दो से अधिक प्रकार के अणु सकते हैं।यौगिक में एक ही प्रकार के अणु होते हैं
मिश्रण का कोई निश्चित रासायनिक सूत्र नहीं होता है।यौगिक का एक निश्चित रासायनिक सूत्र होता है
मिश्रण का घनत्व, संघटक पदार्थों के घनत्व का औसत होता हैयौगिक का गणित संघटक पदार्थों के घनत्व से भिन्न होता है। साथ ही अवयवी पदार्थों के घनत्व का औसत नहीं होता है।
यौगिक और मिश्रण में अंतर | Difference Between Mixture and Compound

इन्हें भी पढ़े :-

आशा करता हूं कि हमारे द्वारा दिए गए इस पोस्ट के माध्यम से आप सभी को मिश्रण तथा यौगिक में अंतर या यौगिक तथा मिश्रण में अंतर को समझना आसान हो गया होगा। इस पोस्ट के माध्यम से आप सब यौगिक और मिश्रण में अंतर को आसानी से समझ पाएंगे।इस पोस्ट को ध्यानपूर्वक पढ़ें।

1 thought on “यौगिक और मिश्रण में अंतर || Difference Between Mixture and Compound”

Leave a Comment